अनुच्छेद 35 A पर महबूबा मुफ्ती ने बयानबाजी की

अनुच्छेद 35a लेकर बयानबाज़ी करते हुए पीडीपी नेता व जम्मूकश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बयानबाजी करते हुए कहा है कि अनुच्छेद 35A से छेड़छाड़ करने के लिए जो हाथ उठाएंगे वो हाथ ही पूरा जिस्म जलकर राख हो जाएगा

इसके पहले भी महबूबा मुफ्ती  कश्मीर में अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती को लेकर बयानबाजी कर चुकी हैं उनका कहना है कि केंद्र सरकार घाटी के आवाम में डर पैदा करने के लिए यह फैसला लिया है

अभी हाल ही में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल अचानक से कश्मीर के दौरे पर बुधवार को श्रीनगर पहुंचे थे जहां पर उन्होंने सुरक्षा बलों और खुफिया एजेंसी के साथ अलग लग बैठक की थी

इसके पहले पुलवामा हमले के बाद देशभर से 100 केंद्रीय अर्धसैनिक बल को जम्मू कश्मीर में तैनात किया गया था वहीं पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती का कहना है कि कश्मीर में सुरक्षा बलों की कोई आवश्यकता नहीं है सुरक्षाबलों की तैनाती लोगो में डर का माहौल पैदा करेगी

उनका कहना है कि जम्मू कश्मीर का मामला राजनीतिक है उसे सेना के द्वारा हल करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए बता दे कि इस समय जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन है

लोगो द्वारा अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाले समय में अनुच्छेद 35A को  हटाया जा सकता है वहीं जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने मोदी सरकार से सुप्रीम कोर्ट के फैसले इंतजार करने को कहा था

अनुच्छेद 35A 14 मई 1954 को तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद के आदेश से पारित किया गया था अनुच्छेद 35A धारा 370 का ही हिस्सा है, जम्मू कश्मीर को विशेष अधिकार प्रदान करता है

अनुच्छेद 35A जम्मू कश्मीर की विधानसभा को यह अधिकार देता है कि वह स्थाई नागरिक की परिभाषा तय करे इस धारा के कारण ही दूसरे राज्य के नागरिक जम्मू कश्मीर में संपत्ति नही खरीद सकते न ही वहाँ के स्थायी नागरिक बन कर रह सकते है

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *