बेरुत में जबरदस्त धमाका
दिलचस्प

अमोनियम नाइट्रेट जिस की वजह से लेबनान की राजधानी बेरुत में हुआ जबरदस्त धमाका

लेबनान की राजधानी बेरुत में एक बड़ा धमाका हुआ है। यह घमाका अमोनियम नाइट्रेट की वजह से हुआ है। इस घमके में 350 लोगों की जान चली गई है और करीब 5 हजार से ज्यादा लोग घायल हैं। लेबनान की सरकार ने वादा किया है कि जो लोग इसके पीछे जिम्मेदार हैं उनके प्रति जवाबदेही तय होगी।

कहा जा रहा है कि लापरवाही की वजह से बेरुत में यह धमाका हुआ है। लेबनान के उच्च अधिकारियों का कहना है कि बेरुत के बंदरगाह पर साल 2013 में एक शिपमेंट में 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट लाया गया था और उसे गोदाम में रखा गया था। बता दें कि अमोनियम नाइट्रेट का इस्तेमाल फटलाइजर बनाने और बम बारूद बनाने में सबसे ज्यादा किया जाता है।

इतनी बड़ी मात्रा में लाए गए अमोनियम नाइट्रेट को बेरुत में बिना किसी सुरक्षा इंतजाम के ही छोड़ दिया गया था, जैसे कोई सामान्य चीज हो और उसी का खामियाजा मंगलवार को लोगों को भुगतना पड़ा।

मंगलवार को बेरुत में भीषण धमाका हुआ। इस बात का अंदेशा जताया जा रहा है कि आतिशबाजी की वजह से उस गोदाम में आग लग गई होगी जहां पर अमोनियम नाइट्रेट रखा गया था और उसके बाद यह धमाका हुआ होगा। वहीं लेबनान के प्रधानमंत्री ने कहा है कि ‘लापरवाही की हद है।

beirut

बिना किसी सुरक्षा इंतजाम के गोदाम में अमोनियम नाइट्रेट रखा गया था। यह माफी योग्य नही है और हम इस पर मूकदर्शक नहीं बनेंगे’। बता दें कि इस घटना के बाद लोग काफी गुस्से में हैं और इस घटना के लिए जो भी जिम्मेदार है उसके ऊपर कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं।

बेरुत के गवर्नर मारवन अबोद के अनुसार इस धमाके से लगभग आधा शहर पूरी तरह से तबाह हो गया है और बेरुत शहर को करीब 15 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है, 3 लाख से भी अधिक लोग बेघर हो गए हैं। यह धमाका इतना भयानक था कि इसकी गूंज 160 किलोमीटर दूर साइप्रस तक भी सुनाई दी थी।

अमोनियम नाइट्रेट :-

अमोनिया और नाइट्रोजन से मिलकर बना अमोनियम नाइट्रेट एक गंधहीन सफेद रंग का केमिकल पदार्थ है। इसका प्रयोग खेतों में खाद के रूप में या फिर खनन कार्य में विस्फोटक के तौर पर होता है। इसने धमाका होने पर एक खतरनाक गैस निकलती है। अमोनियम नाइट्रेट एक बेहद ज्वलनशील केमिकल होने की वजह से इसके रखरखाव के लिए दुनिया भर में बेहद कड़े नियम है। इसके पहले 1947 में टेक्सास नामक शहर में भी अमोनियम नाइट्रेट की वजह से बड़ा हादसा हुआ था।

यह भी पढ़ें :  आखिर क्यों यूनान के अधिकतर घर नीले और सफेद रंग से रंगे जाते हैं ?

तब अमोनियम नाइट्रेट ले जाने वाले दो मालवाहक जहाज आपस में टकरा गए थे जिसमें 581 लोग मारे गए थे और 3500 से अधिक लोग घायल हुए थे। 2013 में वेस्ट टेक्सास के एक उर्वरक संयंत्र में भी आग लग गई थी और जिसकी वजह से भयंकर विस्फोट हुआ था।  साल 2005 में चीन के तिआनजिन नामक बंदरगाह पर अमोनियम नाइट्रेट का जबरदस्त विस्फोट हुआ था जिसमें 165 लोगों की जान चली गयी थी।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *