बीएमसी ने तहस-नहस किया कंगना का ऑफिस
मनोरंजन

बीएमसी ने तहस-नहस किया कंगना का ऑफिस

अभिनेत्री कंगना रनौत अपनी बहन रंगोली चंदेल के साथ मुंबई अपने घर पहुंच गए हैं। लेकिन मुंबई में पहुंचने से पहले बीएमसी के अधिकारियों ने पाली हिल पर बने कंगना के आवासीय दफ्तर में काफी तोड़फोड़ की है। बीएमसी ने कहा कि अवैध निर्माण के चलते यह तोड़फोड़ की गई है।

अभिनेत्री कंगना रनौत ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करके दिखाया है कि उनका ऑफिस किस तरीके से बुरी तरह टूटा हुआ नजर आ रहा है। अपने ऑफिस में तोड़फोड़ पर कंगना ने कहा है कि जिस तरह से मेरा घर तोड़े हैं इसी तरह से एक दिन ऊधव ठाकरे का घमंड भी टूटेगा।

कंगना ने एक वीडियो जारी करके बीएमसी द्वारा की गई तोड़फोड़ का जिम्मेदार उद्धव ठाकरे को बताया है और उन पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है तूने फिल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर मेरे से बहुत बड़ा बदला लिया है आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा, यह वक्त का पहिया है याद रखना हमेशा एक जैसा नहीं रहता।

यह भी पढ़ें : सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या से जुड़ी कुछ बाते और उनका रिया चक्रवर्ती से रिलेशनशिप

बता दें कि मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) की टीम ने अभिनेत्री कंगना राणावत के बगले के कुछ हिस्सों में तोड़फोड़ की और कहा है कि उन्होंने अवैध तरीके से यह निर्माण किया था। बीएमसी ने कंगना रनौत पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अवैध निर्माण है नक्से और प्लान के मुताबिक यह निर्माण नही करवाया है।

इसीलिए पहले भी हमने कंगना रनौत को नोटिस भी भेजा था लेकिन उनकी तरफ से इसका कोई जवाब नही आया तो बाद में बुधवार को बीएमसी ने अवैध निर्माणों पर कार्रवाई की है।

बता दें कि बीएमसी की कार्रवाई पर कंगना रनौत ने अपनी नाराजगी जाहिर की है। बीएमसी द्वारा की गई कार्यवाही पर कंगना रनौत को हाई कोर्ट से भी राहत मिल गई है। हाईकोर्ट ने कंगना के दफ्तर पर की गई कार्यवाही पर रोक लगा दिया है और अगली सुनवाई कल होगी।

नेपोटिज्म पर कंगना रनौत
 कंगना रनौत

बता दे अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद अभिनेत्री कंगना लगातार सोशल मीडिया पर सक्रिय रहती हैं और अपनी बेबाक राय रख रही हैं। अभिनेत्री ने दावा किया था कि बॉलीवुड में माफिया गैंग है साथ ही इन्हें राजनीतिक सपोर्ट भी है।

अब कंगना के ऑफिस में की गई कार्रवाई पर उन्होंने बीएमसी की आलोचना की है, साथ ही महाराष्ट्र सरकार को बाबर और पाकिस्तान तक कह दिया है। बता दें कि कंगना रनौत इन दिनों सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद लगातार चर्चा में बनी हुई है।

यह भी पढ़ें : अभिनेत्री कंगना रनौत को मिली वाई श्रेणी की सुरक्षा आइए जानते हैं और कितने श्रेणियों में होती है यह सुरक्षा

वही कंगना के दफ्तर में तोड़फोड़ के मसले पर शरद पवार ने कहा है कि उनके बयानों को लोगों द्वारा बिना मतलब के महत्व दिया जा रहा है। शरद पवार ने बिना नाम लेते हुए कहा है कि उनके बयानों को अनुचित महत्व दिया जा रहा है। लोग उनकी टिप्पणी को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा है कि ऐसे बयान को अनुचित महत्व दिया जा रहा है। लोगों पर इस तरह के बयानों का क्या प्रभाव पड़ रहा है इसकी पड़ताल करनी चाहिए। मेरी राय है कि लोग ऐसे बयानों को गंभीरता से नहीं लेते हैं। शरद पवार ने आगे यह भी कहा कि महाराष्ट्र और मुंबई के लोगों को राज्य और नगर के पुलिस के काम और तौर-तरीकों का वर्षों से अनुभव है।

जनता पुलिस के काम को जानती है। इसलिए इस तरह के बयान पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। इसके पहले भाजपा ने भी कंगना के खिलाफ की गई कार्रवाई को गैरजरूरी कहा था।

बता दें कि इस समय महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन वाली सरकार है और बीएमसी पर इन दिनों शिवसेना का कब्जा है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *