धौनी अब टीम इंडिया की नीली जर्सी में नही खेलेंगे
खेल

क्या धोनी अब टीम इंडिया की नीली जर्सी में नही खेलेंगे !

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने साल 2020 के लिए अपने खिलाड़ियों की सालाना अनुबंध सूची को जारी कर दिया गया है । इस सूची में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का नाम नहीं है और इसी के साथ धोनी सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगे हैं और उनके संन्यास लेने की अटकलें और तेज हो गई हैं । बीसीसीआई द्वारा यह सूची अक्टूबर 2019 सितंबर 2020 के लिए जारी की गई है । इस बार धोनी को इस लिस्ट से बाहर कर दिया गया है ।

जिससे धोनी के समर्थकों में काफी गुस्सा है और सोशल मीडिया पर जमकर भड़ास निकाल रहे हैं और अपनी नाराजगी जता रहे हैं । मालूम हो कि महेंद्र सिंह धोनी ने 23 दिसंबर 2004 को बांग्लादेश के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था और आखरी बार धोनी ने विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था । महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी कप्तानी में भारत लिए विश्व कप 2011 के साथ ही टेस्ट और 350 वनडे मैच, और  98 टी20 खेले हैं ।

अभी कुछ दिनों पहले खबर थी कि भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर धोनी से नाराज थे उनकी नाराजगी की वजह घोनी की टीम से छुट्टी पर थी । इस बात पर सुनील गावस्कर ने कहा था कि ‘कोई खिलाड़ी कितने दिन की छुट्टी कैसे ले सकता है’ । मालूम होगी धोनी ने विश्व कप 2019 सेमीफाइनल मैच के बाद से ही भारत के लिए कोई क्रिकेट नहीं खेले है और खुद को चयन के लिए उपलब्ध नहीं कराया ।

धोनी ने विश्व कप के बाद भारतीय सेना को अपनी सेवा दी इसकी जानकारी धोनी ने बीसीसीआई को पहले ही दे दी थी । इसी बीच धोनी के संन्यास लेने की अटकलें काफी तेज हो गई हैं । नवंबर में धोनी को लेकर कई बयान सामने आए थे । भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि धोनी खुद संन्यास पर फैसला लेंगे । वहीं बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने कहा था कि महेंद्र सिंह धोनी से वह उनके भविष्य पर बात करेंगे ।

भारतीय टीम के कप्तान रवि शास्त्री ने भी कहा था कि आईपीएल 2020 में धोनी के प्रदर्शन का इंतजार कीजिए । खुद धोनी ने भी कहा था कि जनवरी तक इंतजार करो । उसके बाद अभी नवंबर के आखिर में सौरव गांगुली ने कहा था कि वह धोनी का भविष्य जानते हैं लेकिन बताने पर बवाल हो जाएगा । अभी कुछ दिनों पहले धोनी अपनी फिटनेस पर काम करते हुए भी देखे गए और रांची में अंडर 23 टीम के साथ नेट में बल्लेबाजी भी किए ।

मालूम हो कि धोनी 2014 में अचानक से टेस्ट क्रिकेट से अलविदा ले लिए थे उस समय भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर थी और अचानक से धोनी ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहने का ऐलान कर दिया था । इसी तरह धोनी ने वनडे टीम की कप्तानी छोड़ने के लिए भी किया । धोनी ने खुद प्रस्ताव रखा था कि वे विराट कोहली को वनडे टीम की कप्तानी सौंप देनी चाहिए और यह भी कहा था कि वह विराट कोहली की कप्तानी में खेलने के लिए तैयार हैं ।

धोनी 38 साल की हो गए हैं और विश्व कप 2019 में धोनी की बल्लेबाजी की बहुत आलोचना भी हुई है । विश्व कप के सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ घोनी ऊपर के क्रम पर बल्लेबाजी करने नहीं आए तो यह सवाल भी खड़ा हुआ था कि क्या धोनी अपनी जिम्मेदारी से बचने की कोशिश कर रहे हैं ।

यह सवाल धोनी के साथी खिलाड़ी गौतम गंभीर ने उठाया था । टीम का चयन करना भले सिलेक्टर्स का काम होता है लेकिन संन्यास का फैसला खुद धोनी का होना चाहिए । धोनी ने सालाना अनुबंध से बाहर करने के बाद बीसीसीआई की ओर से सफाई भी दी गई है और कहा गया है कि धोनी से बातचीत कर बता दिया गया था कि उन्होंने सितंबर 2019 से कोई भी मैच नहीं खेला है इसलिए कोई कांट्रैक्ट में जगह नहीं मिली है । अब देखते हैं आगे क्या होता है, क्या धोनी अपने संन्यास की घोषणा करते हैं या फिर टीम इंडिया में वापसी करते है..?

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *