एक डिलीवरी बॉय का हर किसी को प्रेरित करने वाला बेहद अनोखा स्टार्टअप

एक डिलीवरी बॉय का हर किसी को प्रेरित करने वाला बेहद अनोखा स्टार्टअप

एक दौर था जब लोगों के पास कुछ ही क्षेत्रो में रोजगार मिलते थे । लेकिन समय के साथ विकास होता गया और आज के समय में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट और आईटी सेक्टर में ढेरों अवसर हैं । आईटी सेक्टर में क्रांति की वजह से रोजगार के कई सारे अवसर उपलब्ध हो गए हैं और इन्हीं का फायदा आज की युवा पीढ़ी उठा रही है और हर किसी को अपने पैरों पर खड़ा होने के लिए प्रोत्साहित ही कर रही है ।

लेकिन आज भी नकारात्मकता वाले विचार युवाओं में देखने को मिलते है । बढ़ती जनसंख्या के साथ लोगों में बेरोजगारी बढ़ रही हैं । लोगो को शिकायत हैं कि उनके पास करने के लिए कोई काम नही है लेकिन अगर इंसान के पास इच्छा हो तो कोई भी कुछ भी कर सकता है बस उसके अंदर कुछ करने और सीखने का का हौसला होना चाहिए ।

चलिये जानते है एक प्रेरित करने वाली कहानी: —

यह कहानी है एक डिलीवरी ब्वॉय की, जिसने खड़ा किया एक अनोखा स्टार्टअप । दरअसल रघुवीर सिंह चौधरी नाम का एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाला एक लड़का, जिसका परिवार कभी बहुत गरीब था और गरीब होने की वजह से उसने अपनी पढ़ाई भी पूरी नहीं कर पाई थी और नौकरी की तलाश में घर से बाहर निकल गया ।

इसी बीच उसने अमेज़न में 9 महीने प्रतिमाह पर डिलीवरी ब्वॉय का काम करने लगा । वह अपने साइकिल से सामानों की डिलीवरी किया करता था । इसी बीच डिलीवरी के दौरान उसे एक दिन चाय पीने की इच्छा हुई । लेकिन उसे काफी मशक्कत करने के बाद एक चाय की दुकान दिखी ।

तब उसके दिमाग में एक विचार आया । उसने सोचा कि जब कोई भी सामान पहुंचाने के लिए कंपनी कमिटमेंट करती है और डिलीवरी के लिए समय निर्धारित करती है तो यही चीज चाय के साथ भी तो किया जा सकता है और उसका यह आइडिया बेहद सफल रहा । उसने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर छोटी सी पूंजी लगाकर एक छोटे से कमरे में चाय बनाने का काम शुरू किया ।

गर्म और बेहतरीन चाय की डिलीवरी । उसका शुरू किया गया यह प्रयास रंग लाया और कुछ ही दिन में 100 से अधिक दुकान और शोरूम को अपनी तरफ आकर्षित कर लिया । शुरुआत में उसने डिलीवरी का काम साइकिल के जरिए ही सुरु किया था लेकिन धीरे-धीरे उसे इस काम में मुनाफा होने लगा और अब वह डिलीवरी बाइक से करने लगा है ।

 

आज के समय में रघुवीर के पास जयपुर में 4 से ज्यादा चाय के सेंटर हैं और हर एक सेंटर 500 से 700 दुकान, शोरूम और घरो से जुड़ा हुआ है। आज उसे लाखों रुपए की मासिक आमदनी होती है । उसके स्टाफ में 10 से 15 लोग चार बाइक की मदद से पूरे जयपुर में गरम चाय की डिलीवरी करते हैं ।

लोग कहीं से भी व्हाट्सएप के जरिए चाय के लिए बुकिंग करके आर्डर कर लेते हैं । रघुवीर की डिलीवरी ब्वॉय से स्टार्ट बनाने की कहानी हमें यह सीख देती है कि हमारे पास अवसर की कमी नहीं होती है बशर्ते कि अपनी काबिलियत के जरिए अवसर की पहचान कर कर ली जाए । इंसान चाहे तो वह सफल हो सकता है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *