जानिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विमान “एयर फोर्स वन” के बारे में

जानिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विमान “एयर फोर्स वन” के बारे में

अमेरिका के राष्ट्रपति की शान – शौकत के प्रतीक के तौर पर कई चीजें इस्तेमाल होती है, उसी में एक है  एयर फोर्स वन एयरक्राफ्ट । यह विमान अमेरिकी वायुसेना के विमान में राष्ट्रपति के सवार रहने के दौरान इस्तेमाल में आने वाला सरकारी रेडियो कॉल साइन है यानी कि अमेरिका के राष्ट्रपति जिस विमान में सफर करते हैं उसका ट्रैफिक कोड एयर फोर्स वन है ।

व्हाइट हाउस की वेबसाइट पर विमान से जुड़ी तमाम जानकारियां है । जिसमें यह अभी बताया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति को किसी भी समय कहीं भी जाना पड़ सकता है, ऐसे में राष्ट्रपति के लिए एयर फोर्स वन एक प्रतीक है । इस विमान का आंतरिक स्पेस 4000 वर्ग फीट है और एक समय में 100 लोगों के खाने का इंतजाम इस विमान में रहता है । इसमें राष्ट्रपति के साथ रहने वालों के लिए क्वार्टर भी है, साथ ही उनके साथ आने वाले सीनियर एडवाइजर, सीक्रेट सर्विस के ऑफिसर, मीडिया व अन्य कई गेस्ट होंगे ।

ऐसे में इस विमान को जरूरी निर्देशों के लिए कई कार्गो प्लान भी है । अमेरिका के एयर फोर्स परंपरा का निर्वाह करते हुए एयरफोर्स में नया विमान 747-8 को शामिल किया है जो विभिन्न सुविधाओं से सज्जित है ।मालूम हो कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप 24 फरवरी को भारत आ रहे हैं और वो इसी विमान से भारत आएंगे ।

मालूम हो कि 1962 में विशेष तौर पर राष्ट्रपति के लिए निर्मित बोइंग 707 में उड़ान भरने वाले राष्ट्रपति जॉन एफ कैनेडी पहले राष्ट्रपति थे और उसके बाद प्रतिनिधि जेट एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया । एयरक्राफ्ट 965 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से उड़ान भरने की क्षमता रखता है । साथ ही इसमें सर्जरी और मेडिकल की भी तमाम सुविधाएं मौजूद है । यह विमान 70 मीटर लंबा है । इसको फ्लाइंग हवाई हाउस के नाम से भी जाना जाता है ।

यह विमान इतना अलीसान है कि इसे हवा में उड़ान भरता हुआ होटल भी कह सकते हैं । इसमें आधुनिक संचार व्यवस्था, मीटिंग ऑफिस समेत कई सुविधाएं मौजूद हैं । इसमें लगाए गए इलेक्ट्रॉनिक उपकरण इसे इलेक्ट्रोमैग्नेटिक से बचाव करने में सक्षम है साथ ही इसमें एडवांस सिक्योर कंपनी के उपकरण है जो विमान को मोबाइल कमांड सेंटर के तौर पर काम करने की सुविधा देता है ।

बता दें कि सुरक्षा के लिहाज से अमेरिका के राष्ट्रपति की विशेष कार “द बीस्ट” पहले से ही भारत पहुंच चुकी है जिसे दुनिया की सबसे सुरक्षित कार माना जाता है । नया कार अत्याधुनिक सुविधाओं और हथियारों से लैस है जिसकी जरूरत किसी भी तरह की आपात स्थिति के दौरान पड़ सकता है साथ ही इसमें राष्ट्रपति की सुविधा का भी पूरा ख्याल रखा गया है ।

राष्ट्रपति के लिए तैयार की गसी विशेष कार 2 दिन पहले ही अमेरिकी वायुसेना के विमान से अहमदाबाद पहुंच चुकी है । डोनाल्ड ट्रंप अहमदाबाद एयरपोर्ट पर उतरने के बाद इसी गाड़ी से भारत का दौरा करेंगे । इस कार का ड्राइवर भी विशेष प्रशिक्षण प्राप्त किए हैं । इसे एक कमांडो ड्राइव करता है ।

दुनिया के सबसे शक्तिशाली नेता होने की वजह से अमेरिकी राष्ट्रपति को कई तरह से अंतरराष्ट्रीय खतरे भी होते हैं ऐसे में यह कार किसी भी प्रकार के हमले को बेअसर करने के क्षमता रखती है । इस कार पर किसी गोली का असर नही होता है और ना ही बम का । यहां तक कि केमिकल अटैक और न्यूक्लीयर हमले से भी  बचने में यह सक्षम है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *