थकान और पैरों में दर्द हो तो

थकान और पैरों में दर्द हो तो डॉक्टर से मिलने सर्दी के मौसम में हो जाती है विटामिन डी की कमी

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में ज्यादातर लोग अपने खान-पान और सेहत का सही ढंग से खाया नहीं रखते हैं । सेहतमंद शरीर के लिए विटामिन और मिनरल बहुत जरूरी होते हैं । हमारे शरीर को कई तरह के विटामिंस की जरूरत होती है और यह विटामिन हमे फल, सब्जियों और अन्य खाद्य पदार्थों के जरिए मिलती हैं ।

बहुत बार हमारे शरीर में विटामिन की मात्रा इतनी कम हो जाती है कि हमें दवा, इंजेक्शन या स्लाइन के जरिए इसे चढ़ाने की नौबत आ जाती है । शरीर को स्वस्थ और दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी है सभी विटामिन का पर्याप्त रूप से मिलना ।

इसमें भी सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण विटामिन डी है । क्योंकि विटामिन डी से शरीर को ऊर्जा मिलती है । सूरज की किरण को विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है । सर्दियों के मौसम में सूरज कम निकलता है और इतना गर्म भी नहीं होता । इस वजह से सर्दी के मौसम में शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी नहीं मिल पाता है ।

जब शरीर को विटामिन डी नहीं मिल पाता तो विटामिन डी की कमी के कारण इम्यून सिस्टम, नर्वस सिस्टम सही ढंग से काम नहीं कर पाता है और कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं । विटामिन डी की कमी से जल्दी थकान होना, जाड़े के मौसम में जोड़ो की हड्डियों में दर्द होना, पैरों में सूजन होना, मांसपेशियों का कमजोर हो जाना तथा ज्यादा देर तक खड़े रहने में परेशानी होना जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं ।

ऐसे में डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी होता है । सूरज की रोशनी के अलावा ऐसे कई फूड होते हैं जिसमें विटामिन डी पाई जाती है और उससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में जरूरत पूरी हो जाती हैं । दूध में विटामिन डी पाया जाता है और यह आसानी से उपलब्ध है । विशेषज्ञों के अनुसार हमें जितनी विटामिन की आवश्यकता होती है उसका 20 फ़ीसदी दूध से मिल जाता है । टूना मछली में भी काफी मात्रा में विटामिन डी होती है ।

चिकन और अंडे में विटामिन डी पाई जाती है । हरी सरसों और तेल में विटामिन डी पर्याप्त मात्रा में पाई जाती है । पनीर में भी विटामिन डी की मात्रा पाई जाती है लेकिन यह कम मात्रा में होती है इसके बावजूद पनीर को डाइट में शामिल किया जा सकता है ।

अपनी डाइट पर थोड़ा सा ध्यान देकर विटामिन डी की कमी को पूरा किया जा सकता है और विटामिन डी की कमी से होने वाली समस्या जैसे थकान, जोड़ों में दर्द आदि से काफी हद तक निजात पाई जा सकती है ।

इसके अलावा सर्दियों के मौसम में जब भी धूप निकले तो कुछ देर धूप में बैठना चाहिए इससे विटामिन डी की जरूरत भी पूरी हो जाती है और शरीर को ऊर्जा भी मिलती है तथा शरीर को गर्माहाट भी मिल जाती है । सर्दियों में धूप में बैठना लोग पसंद भी करते है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *