क्या गांव में भी तेजी से फैल रहा है कोरोना वायरस !!
दिलचस्प

क्या गांव में भी तेजी से फैल रहा है कोरोना वायरस !!

चीन के वुहांन शहर से होते हुए कोरोना वायरस पूरी दुनिया में तेजी से फैल गई । कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए भारत में लगभग 2 महीने से लॉक डाउन किया गया है, लेकिन इसके बावजूद कोरोना वायरस महामारी देशभर में दिनों दिन तेजी से बढ़ती ही जा रही है । पहले कोरोना वायरस सिर्फ शहरों तक सीमित था लेकिन अब करोना वायरस गांव में भी तेजी से फैल रहा है ।

इसकी वजह है – शहर से वापसी कर रहे प्रवासी मजदूर । कोरोना वायरस की वजह से लॉक डाउन कर दिया गया और कामकाज पूरी तरह से ठप हो गए । असंगठित क्षेत्र के मजदूर बेरोजगार हो गए और अपने घर वापस लौटने के लिए मजबूर हो गए । ये वे मजदूर थे जो गांव से शहर रोजगार की तलाश में गए थे और लॉक डाउन में कामकाज ठप हो जाने की वजह से मजबूरन उन्हें अपने गांव वापस लौटना पड़ा ।

लाखों मजदूर अपने घर वापस लौटने के लिए पैदल ही चल दिए । कुछ मजदूर जो रिक्शा चालक या ऑटो ड्राइवर थे वह अपने इन्हीं साधन से ही लौटने लगे और कुछ पैदल या फिर साइकिल पर ही अपनी गृहस्थी समेट गांव लौटने लगे । मीडिया ने जब इसकी तरफ ध्यान दिया तब सरकार थोड़ा सचेत हुई ।

तब श्रमिकों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जिसके जरिए उन्हें घर पहुंचाया जाने लगा लेकिन शहर से अपने गांव वापसी के दौरान ये मजदूर कोरोना वायरस से संक्रमित होने लगे और धीरे-धीरे कोरोना वायरस शहरों से होता हुआ भारत के गांव तक जा पहुंच रहा है । ऐसे में देश की व्यवस्था पर भी सवाल होती है और सरकार की संवेदना भी सवाल के घेरे में आ गए । कई सारे मजदूर इस कोरोना वायरस की वजह से भी घर लौटने लगे । अब इसका तकनीकी पक्ष चाहे कुछ भी रहा हो लेकिन व्यावहारिक पक्ष काफी अलग है ।

कोरोना वायरस अभी गांव में पूरी तरीके से फैला नहीं है क्योंकि अभी तक सिर्फ वही संक्रमित हैं जो शहरों से गांव लौटे हैं लेकिन अगर ये लोग सतर्क और जागरूक नहीं होते हैं तब कोरोना वायरस महामारी भारत के गांवों तक भी तेजी से पहुंच जाएगी और तभी स्थिति बहुत ज्यादा बदतर बन जाएगी क्योंकि भारत के गांवो में बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं का भी अभाव है इससे सब परिचित है ।

gaon

साथ ही इससे छुआछूत को भी बहुत ज्यादा बढ़ावा मिलेगा । भारत में वैसे भी जातिगत आधार पर छुआछूत आज भी मौजूद है । कोरोना वायरस इसे और ज्यादा बढ़ाने में मदद कर सकता है । अब आने वाला वक्त बताएगा की भारत में स्थिति किस तरह से बनती है ! क्या भारत गांव में कोरोना वायरस के प्रसार पर रोक लगा पाएगा या फिर नहीं ?

यह भी पढ़ें : आइये जाने कोरोना वायरस का कहर कब खत्म होगा

हालांकि गांव में भी डर से लोग जागरूक हो रहे हैं और वो बाहर से आने वाले अपने प्रियजनों लोगों को 15 दिन तक क्वॉरेंटाइन में रख रहे हैं । सरकार द्वारा गांव में कुछ स्कूलों में शहर से आने वाले लोगों को क्वॉरेंटाइन करके रखा जा रहा है या फिर लोग अपने घरों में ही एक अलग कमरे में या फिर घर के एक कोने में रह रहे हैं । लेकिन ध्यान रहे कोरोना वायरस से निजात तभी पाई जा सकती है जब लोग सतर्क होने के साथ-साथ सावधानी बरते ।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *