किताब की पहली लाइन पढ़ के किताब की बारे में डिटेल्स बता देता है
दिलचस्प

14 साल का लड़का, किताब की पहली लाइन पढ़ के किताब की बारे में डिटेल्स बता देता है

प्रतिभा को कभी भी साबित करने के लिए बस एक मौका और मंच मिलना चाहिए । आजकल के युवाओं को बस एक मौका और मंच मिल जाए तो वे कई सारे विश्व तक रिकॉर्ड बनाने की क्षमता रखते हैं । आज के समय के बच्चे बहुमुखी प्रतिभा वाले होते हैं और वह कुछ ऐसा करना चाहते हैं जिससे उनका नाम हो ।

आज हम बात करने जा रहे हैं ऐसे लड़के  की जो मात्र 14 साल का है और जिसने एक विश्व रिकार्ड बना दिया । 14 साल के एक स्कूली छात्र, जिसका नाम मोंटी लॉर्ड है, ने मात्र 14 साल की उम्र में ही एक भारतीय का विश्व रिकार्ड तोड़ दिया है और अब यह विश्व रिकार्ड मोंटी के नाम दर्ज हो गया है ।

मोंटी विलक्षण प्रतिभा के धनी है । यदि किसी किताब को एक बार पढ़ लेते हैं तो वह किताब उनके दिलो-दिमाग पर जैसे छप जाती है और जब दुबारा कोई उनसे उस किताब के बारे में पूछता है तो सारी डिटेल बता देते हैं । 14 साल के मोंटी ने अब तक 129 किताबें पढ़ ली है और इन 129 किताबों में से कोई भी यदि किताब उठा ली जाए और उसकी पहली लाइन उनको बता दी जाए तो वह उस किताब की बाकी डिटेल खुद ही बता देते हैं ।

पहले यह विश्व रिकॉर्ड एक 30 साल के भारतीय व्यक्ति के नाम था जिसे अब मोंटी ने तोड़ दिया है । अब यह विश्व रिकॉर्ड मोंटी के नाम दर्ज हो गया है और गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में उन्हें स्थान दिया गया है ।

मोंटी साइकोलॉजी में डिस्टेंस डिस्टेंस लर्निंग के दौरान स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए काफी आकर्षित रहते थे और इस वजह से उन्होंने एक कोर्स किया । सबसे पहले मोंटी अपने शुरुआती वाक्य में सिर्फ 129 पुस्तकों की पहचान करके अपने इस महत्वाकांक्षा को प्राप्त किए हैं कि उन्हें विश्व रिकॉर्ड बनाना है । इसके लिए मोंटी के पिता सेवियर लॉर्ड उन्हें प्रेरित किए ।

मोंटी के पिता ने उन्हें रिकॉर्ड में शामिल करने के लिए चुनौती दी और मोंटी ने इसे स्वीकार किया और इसी के साथ पहले वाक्य से पहचानी जाने वाली सबसे प्रमुख पुस्तकों के बारे में डिटेल बताने की उपलब्धि हासिल की । मोंटी ने इसके लिए विजुअलाइजेशन तकनीक का इस्तेमाल किया ।

इस तकनीक से उनका नाम गिनीज बुक में दर्ज कर लिया गया है । मोंटी ने लगभग 200 किताबों की पहचान की और उस किताब की पहली लाइन याद करके यह विश्व रिकार्ड बनाया है । मोंटी की मेमोरी को चेक करने के लिए स्कूल के क्लासरूम को चुना गया था ।

यहां पर श्रीलार्ड ले 130 किताब की पहली लाइन पढी और उसके बाद उस किताब की डिटेल मोंटी ने बताएं । श्रीलार्ड  मोंटी की मोरी को देखकर हैरान थे क्योंकि वह सभी किताबों की पहली लाइन सुनने के बाद उस किताब की पूरी डिटेल बता देते थे ।

मालूम हो कि 129 किताबों की सूची में हैरी पॉटर, द ग्रुप ऑफ एडवेंचर्स, आफ हकलबेरी फिन भी शामिल थी, इसके अलावा विलियम शेक्सपियर के नाटक से लेकर इयान फ्लेमिंग की किताबें, इयान बैक्स से फ्रांज काफ्का जिसमे लोलिता और ए क्लोकवर्क ऑरेंज भी शामिल थी ।

मोंटी के इस कारनामे के 11 दिन बाद उन्हें गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड से एक ईमेल प्राप्त हुआ जिसके शीर्षक में “यू आर ऑफीशियली अमेजिंग” लिखा था । मोंटी को अपनी सफलता की सूचना ईमेल के माध्यम से मिली ।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *