14.6 C
Delhi
Friday, January 22, 2021

जानिए स्माइलिंग डिप्रेशन क्या है, रिस्क फैक्टर्स और लक्षण

Must read

चाय बनाने के बाद इस्तेमाल की हुई चाय पत्ती से बनाए इस तरह बेहतरीन खाद Compost

भारत के लोग Tea पीने के बहुत शौकीन होते हैं। हर दिन हर घर में कम से कम एक बार चाय तो जरूर ही...

आइए जानते हैं सड़कों पर क्यों बनाई जाती है सफेद और पीले रंग की लाइन

हम सब ज्यादातर सड़क मार्ग से ही सफर करते हैं इसलिए ज्यादातर लोगों ने सड़क पर सफेद और पीले रंग की पार्टियों को देखा...

आंखों की थकावट और सूजन को दूर करने के लिए अपनाएं ये तरीके

जब बहुत ज्यादा देर तक जब सोने के बाद सुबह सो कर उठे हैं तो अक्सर हमारी आंखें सूजी हुई और थकी हुई नजर...

क्या जापान जानता है Subhash Chandra Bose के गायब होने का पूरा सच!

आजादी के महानायक नेता Subhash Chandra Bose के गायब होने का सच जापान को पता है, ऐसा कहना है नेताजी के परपौत्र चंद्र कुमार...

डिप्रेशन (अवसाद) का सबसे खराब रूप क्या है? शायद मुस्कुराहट ? यह आसान नही होता है बता सकना कि कोई व्यक्ति अवसाद में है क्योंकि वह खुश और मुस्कुरा रहा है!

डिप्रेशन का कोई चेहरा या अभिव्यक्ति नही होती है। डिप्रेशन में व्यक्ति को उदास होना चाहिए या नही! डिप्रेशन के हाल के मामलों ने हमें सबक दिया है कि अवसाद की पहचान करना इतना आसान नहीं है!

‘डिप्रेशन’ शब्द अक्सर उदासी के साथ जोड़ा जाता है और जब वह डिप्रेशन में होता है तो व्यक्ति सामाजिक रूप से डिस्कनेक्ट और भावनात्मक रूप से अलग हो जाता है, पर यह पूरा सच नहीं है!

कभी-कभी मुस्कुराते हुए लोग भी अवसाद यानी डिप्रेशन में आ जाते हैं और इसी स्टेज को स्माइलिंग डिप्रेशन कहा जाता है।  यह सही समय है कि हम अपने आसपास के लोगों के जीवन को बचाने के लिए डिप्रेशन और इसके विभिन्न प्रकारों के बारे में अधिक समझें। किसी को डिप्रेशन में खोना दिल तोड़ने वाला है और हम सभी इसे महसूस कर सकते हैं।

हम यहां कुछ ऐसी चीजों का जिक्र कर रहे जिसमें मुस्कुराते हुए अवसाद के बारे में काफी कुछ जान सकते है  जो पीड़ित दिलों के साथ मुस्कुराते हुए चेहरे को खोजने में मददगार हो सकता है-

हालांकि अवसाद के बारे में व्याख्यान करना आसान है और यह समझना मुश्किल है कि कोई व्यक्ति अवसाद में क्या करता है?

जब तक हम खुद नुकसान नहीं उठाते, तब तक हम मानसिक स्वास्थ्य और उससे जुड़े विकारों के मूल्य कहाँ समझते हैं!

उदासी के साथ डिप्रेशन की पहचान करना और मुस्कुराहट के साथ डिप्रेशन की पहचान उतना ही मुश्किल होता है।

कई बार तो करीबी लोगों को भी डिप्रेशन में होने का कोई सुराग नहीं मिलता है।

किसी को खोना और ऐसे परिणाम/घटनाओ को रोकने के लिए अवसाद (डिप्रेशन) जैसे मानसिक स्थिति यानी मनोदशा संबंधी बातों को समय पर पहचान और उपचार करना बहुत आवश्यक होता है।

स्माइलिंग डिप्रेशन क्या है ?

जब कोई व्यक्ति चेहरे पर एक नकली मुस्कान और सामान्य इशारों के साथ अपनी डिप्रेशन की स्थिति को छुपाता है, तो वह मुस्कुराते हुए डिप्रेशन यानी अवसाद का शिकार होता है। हालाँकि, यह डायग्नोस्टिक एंड स्टैटिस्टिकल मैनुअल ऑफ मेंटल डिसऑर्डर (DSM-5) में सूचीबद्ध नहीं है, लेकिन इसे गैर-संक्रामक लक्षणों के साथ एक प्रमुख लक्षण (MDD) माना जाता है।

 

वास्तव में यह पता लगाना कठिन है लेकिन फिर भी यही मुस्कुराहट लिए डिप्रेशन यानी अवसाद के कुछ लक्षण हैं जो कुछ संकेत दे सकते हैं:

 

  • वजन में अचानक बदलाव
  • भूख में कमी
  • सुस्ती या थकान
  • उन चीजों में रुचि खो दी जो पहले करना पसंद करते थे
  • उदासी महसूस होना
  • नींद न आना या सोने में असमर्थ
  • कमज़ोर एकाग्रता
  • नकारात्मक सोचें और बात

यह भी पढ़ें : इस तरह पहचाने मानसिक बीमारियों के लक्षण

चूंकि मुस्कुराहट अवसाद एक अलग स्थिति है, इसके संकेत भी सामान्य डिप्रेशन से भिन्न होते हैं। ये एक तरह से बड़े ढोंग की तरह होते हैं । ऐसे लोग सार्वजनिक रूप से लोगो के सामने बड़ी मुस्कान लिए हुए हो सकते हैं जब उनका दिल दर्द उदासी महसूस कर रहा होता है।!

यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुस्कुराते हुए डिप्रेशन वाले लोग अन्य डिप्रेशन वाले लोगों की तुलना में अधिक कमजोर होते हैं।

आसान नही होता है बता सकना कि कोई व्यक्ति अवसाद में है
आसान नही होता है बता सकना कि कोई व्यक्ति अवसाद में है

इसका मतलब है कि ऐसे जल्द ही एक कठोर कदम उठाने में सक्षम हैं। यह इस स्थिति को सामान्य अवसाद से अधिक खतरनाक बनाता है।

मुस्कुराहट वाले डिप्रेशन के कारण

ज्यादातर मामलों में, मुस्कुराहट लिए डिप्रेशन वाले लोग उच्च आशाओं और महत्वाकांक्क्षा रखने वाले लोग होते हैं।  काम, रिश्तों, आदि में असफलता होते है, जीवन में कई परिवर्तन उनकी चुनोतियाँ बढ़ा देते हैं। असफलताओं के साथ अवास्तविक उम्मीदों वाले लोग में इस तरह के अवसाद में फिसलने की सबसे अधिक संभावना होती है।

विशेष कर के जो लोग पूर्णतावाद में विश्वास करते हैं, ऐसे लोग भी मुस्कुराते हुए अवसाद में कई बार होते हैं।  वे अपनी भावनाओं को प्रदर्शित नहीं करना चाहते हैं और मुस्कुराहट के पीछे अपने दर्द को पूरी तरह से छिपाते हैं।

यह भी पढ़ें : इस तरह बढाएं अपनी मेंटल इम्यूनिटी

ऐसे में ऐसे लोगो की मदद कैसे करें?

  • यदि किसी के इस तरह की स्थिति में होने का संदेह हैं, तो उससे वास्तविक प्यार जताये, केयर करे और उसे सुरक्षित महसूस करवाएँ, उसे खुसी और सुकून देने की कोशिश करें
  • उसकी बातें सुनें और सुझाव देने की कोशिश करें जो उसकी मदद कर सकें
  • उन्हें खुश करें और उनके मनोबल और आत्मविश्वास को बढ़ाने की कोशिश करें
  • कॉल या मुलाकात के माध्यम से अक्सर उन पर नज़र रखे
  • उन्हें एक स्वस्थ आहार का पालन करने के लिए कहें
  • या फिर बेहतर इलाज के लिए उन्हें किसी चिकित्सक के पास ले जाएं।
- Advertisement -corhaz 3

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

चाय बनाने के बाद इस्तेमाल की हुई चाय पत्ती से बनाए इस तरह बेहतरीन खाद Compost

भारत के लोग Tea पीने के बहुत शौकीन होते हैं। हर दिन हर घर में कम से कम एक बार चाय तो जरूर ही...

आइए जानते हैं सड़कों पर क्यों बनाई जाती है सफेद और पीले रंग की लाइन

हम सब ज्यादातर सड़क मार्ग से ही सफर करते हैं इसलिए ज्यादातर लोगों ने सड़क पर सफेद और पीले रंग की पार्टियों को देखा...

आंखों की थकावट और सूजन को दूर करने के लिए अपनाएं ये तरीके

जब बहुत ज्यादा देर तक जब सोने के बाद सुबह सो कर उठे हैं तो अक्सर हमारी आंखें सूजी हुई और थकी हुई नजर...

क्या जापान जानता है Subhash Chandra Bose के गायब होने का पूरा सच!

आजादी के महानायक नेता Subhash Chandra Bose के गायब होने का सच जापान को पता है, ऐसा कहना है नेताजी के परपौत्र चंद्र कुमार...

क्यों होता है पेट का कैंसर ( Colon Cancer ) ? क्या है इसके शुरुआती लक्षण

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो हमारे शरीर कि किसी भी हिस्से मे कभी भी हो सकती है। ज्यादातर हम लोग गले का कैंसर,...